Loan kitne Prakar Ke Hote Hain

Loan Kitne Prakar Ke Hote Hain – भारत में लोन कितने प्रकार के होते हैं?

आज के इस आर्टिकल के माध्यम हम जानेंगे कि भारत में लोन कितने प्रकार के होते हैं? [Loan kitne Prakar Ke Hote Hain] एवं अचानक पैसों की जरूरत पड़ने पर कौन सा लोन लेना चाहिए! और Loan kitne Prakar Ke Hote Hain & लोन लेने के लिए योग्यता दस्तावेज एवं ब्याज दर क्या है! इस लेख के माध्यम सबसे पहले हम जानेंगे कि लोन क्या होता है! और लोन कितने प्रकार के होते हैं!

Loan kitne Prakar Ke Hote Hain
Loan kitne Prakar Ke Hote Hain

आज के समय में हर व्यक्ति को अचानक पैसों की जरूरत पड़ जाती है! तो ऐसी स्थिति में लोग बैंक से लोन लेने का प्रयास करते हैं! परंतु काफी लोगों को यह नहीं पता होता है! की कौन सा लोन कब लेना चाहिए! अर्थात लोन कितने तरह के होते हैं!

Loan kitne Prakar Ke Hote Hain

काफी लोग अचानक पैसों की जरूरत पड़ने पर बैंक से लोन लेने जाते हैं! लेकिन उनको लोन की जानकारी न होने के कारण बैंक एवं वित्तीय संस्था के अधिकारी अधिक ब्याज दर वाला लोन दे देते हैं! इसलिए लोन आवेदन करने से पहले बैंक की नियम एवं शर्तें को ध्यानपूर्वक से पढ़ें! जिससे आपको लोन आवेदन करने के बाद ब्याज एवं फिर से संबंधित किसी समस्या का सामना नहीं करना पड़े!

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इस आर्टिकल में हम आपको आसान भाषा में बताएंगे कि हमारे देश भारत में लोन कितने प्रकार के होते हैं! तो चलिए शुरू करते हैं!

READ MORE:-

लोन कितने प्रकार के होते हैं- Types Of Loan in Hindi

Loan kitne Prakar Ke Hote Hain
Loan kitne Prakar Ke Hote Hain

हमारे देश में भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार कई प्रकार के लोन उपलब्ध हैं! इन लोन को दो श्रेणी में बांटा गया है!

  1. सुरक्षित लोन [Secured Loan]
  2. असुरक्षित लोन [Unsecured Loan]

सुरक्षित लोन [Secured Loan]

यह लोन बैंक के लिए सुरक्षित होता है! क्योंकि बैंक या व्यक्ति संस्था लोन आवेदक से लोन के बदले में सिक्योरिटी के रूप में लोन राशि तक का जमीन एवं गोल्ड गिरवी रखवा लेती है! मुझे लोन धारक किसी परिस्थिति में लोन का भुगतान करने में असमर्थ हो जाता है! तो बैंक उसकी रखी हुई चीज को जप्त कर लेती है!

असुरक्षित लोन की अपेक्षा में सुरक्षित लोन कम ब्याज दर एवं आसानी से मिल जाता है! यह लोन निम्नलिखित प्रकार के होते हैं!

  • होम लोन
  • गोल्ड लोन
  • संपत्ति लोन
  • कॉर्पोरेट एवं बिजनेस लोन
  • प्रतिभूतियों पर लोन

1-होम लोन [Home Loan]-

यह एक तरह का सुरक्षा लोन है! जिसके अंतर्गत आप अपने सपनों का घर खरीदने एवं घर बनाने के लिए होम लोन प्राप्त कर सकते हैं! होम लोन में आपको जमीन एवं नए घर के कीमत के अनुसार 80% तक बैंक लोन दे देती है! होम लोन के अंतर्गत मिलने वाले लोन राशि आपकी आय एवं उसकी स्थिरता और जिम्मेदारियां के अनुसार आपके क्रेडिट स्कोर पर निर्भर करती है!

Home Loan आवेदन करने के लिए नियम एवं शर्तें इस प्रकार हैं!

  • नया घर बनाने के लिए बैंक होम लोन उपलब्ध करती है!
  • अपने नए घर के लिए जमीन खरीदने एवं बनाने के लिए बैंक लोन देती है!
  • होम लोन के अंतर्गत आप कम ब्याज दर वाली बैंक में अपना लोन कैसे ट्रांसफर कर सकते हैं! इस प्रक्रिया को होम लोन बैलेंस ट्रांसफर कहा जाता है!
  • Add ON Loan- इस लोन का उपयोग आप अपने मौजूदा होम लोन पर घर का डेकोरेशन एवं मरम्मत के लिए ले सकते हैं!

2- गोल्ड लोन [Gold Loan]-

हमारे देश में सोना बहुत ही लोकप्रिय है! इस फैशन के साथ संपत्ति वर्ग में जोड़ा जाता है! भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया के अनुसार आप अपने गोल्ड की वैल्यू का 80% लोन के रूप में ले सकते हैं! और यह लोन कम ब्याज दर पर मिलता है! गोल्ड लोन लेना बहुत आसान है!

गोल्ड लोन को आवेदन करते समय बैंक आपके आभूषण को सुरक्षा के रूप में गिरवी रख लेती है! यदि आप किसी परिस्थिति में गोल्ड लोन चुकाने में समर्थ होंगे! तो बैंक आपके गोल्ड को जप्त कर लेगी!

यह लोन बहुत ही लोकप्रिय है! इस लोन को लोग अपनी आवश्यकता के अनुसार कम अवधि के लिए लेते हैं!

3- संपत्ति लोन [Property Loan]-

यह लोन सुरक्षित लोन की श्रेणी में आता है! अपनी आवश्यकता के अनुसार लोन प्राप्त करने के लिए आप अपनी प्रॉपर्टी एवं आवासीय, वाणिज्यिक संपत्ति को लोन सिक्योरिटी के रूप में रख सकते हैं! लोन चुकाने के बाद आपकी प्रॉपर्टी के कागज बैंक द्वारा आपको वापस कर दिए जाएंगे!

भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार संपत्ति लोन टोटल वैल्यू के 70-80% तक दिया जाता है! इस लोन का उपयोग आप बच्चों की शिक्षा एवं व्यक्तिगत कार्य जैसे शादी, चिकित्सा आदि के लिए प्रयोग कर सकते हैं!

4- कॉर्पोरेट एवं बिजनेस लोन [ Corporate and Business Loan]-

यह एक तरह का व्यवसाय लोन है! इस लोन का उपयोग छोटे एवं मध्यम आकार की कंपनियों की आवश्यकताओं के लिए किया जाता है! इस लोन का उपयोग कई प्रकार की चीजों के लिए किया जाता है! जैसे- किसी कंपनी के लिए उपकरण को खरीदना, माल खरीदना, कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करना, प्रशासनिक कार्य के लिए इत्यादि!

5-प्रतिभूतियों पर लोन –

यह एक ऐसा लोन है! जिसमें लोन लेते समय आपको अपने शेयर एवं म्युचुअल फंड और बीमा पॉलिसी को सिक्योरिटी के रूप में बैंक को जमा करना होता है! इस लोन के अंतर्गत जब आप अपनी सिक्योरिटी को जमा कर देते हैं! तो आपके खाते में एक ओवर ड्राफ्ट सुविधा के रूप में पैसा आता है! और आप अपने खाते से अपने जरूरत के लिए पैसे निकाल सकते हैं!

जब आप इस लोन के लिए आवेदन कर देते हैं! तो आपके शेयर एवं म्युचुअल फंड बैंक के पास जमा रहते हैं! उसे समय आप अपने शेयर एवं म्युचुअल फंड को Sell नहीं कर सकते हैं! इस लोन का भुगतान करने के बाद आपके डीमैट खाते में शेयर एवं म्युचुअल फंड बैंक द्वारा क्रेडिट कर दिया जाता है!

 

असुरक्षित लोन [Unsecured Loan]

जब कोई बैंक एवं वित्तीय संस्था बिना किसी सिक्योरिटी के आपको लोन देती है! इस लोन का आवेदन करते समय बैंक आपके सिबिल स्कोर एवं भूतकाल में लिए गए लोन का इतिहास देखती है! बैंक एवं वित्तीय संस्था से आप इस लोन को अपनी आवश्यकता के अनुसार आवेदन कर सकते हैं! यह लोन कई प्रकार के होते हैं!

  • पर्सनल लोन
  • व्हीकल लोन
  • एजुकेशन लोन

1- पर्सनल लोन [Persnol Loan]-

यह लोन असुरक्षित लोन की श्रेणी में आता है! इस लोन का उपयोग आप अपनी आवश्यकता के अनुसार कर सकते हैं! जैसे- शिक्षा, चिकित्सा, यात्रा व्यय एवं अपने व्यक्तिगत कार्य के लिए!

पर्सनल लोन को प्राप्त करने के लिए आपका क्रेडिट स्कोर 750 के करीब होना चाहिए! इस लोन की ब्याज दर सुरक्षित लोन की अपेक्षा अधिक होती है! आज के समय में काफी लोग अपनी जरूरत के अनुसार लेते हैं! इस लोन को लेना बहुत ही आसान है बस आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा होना चाहिए!

पर्सनल लोन लेने के लिए योग्यता एवं दस्तावेज-

पर्सनल लोन प्राप्त करने के लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेज होने चाहिए!

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • इनकम प्रूफ
  • बैंक खाता
  • अंतिम 3 महीने का बैंक स्टेटमेंट
  • सिबिल स्कोर 750 करीब

2- व्हीकल लोन [Car Loan]-

इस लोन की सहायता से आप दो या चार पहिए का वाहन खरीद सकते हैं! व्हीकल लोन का उपयोग नए एवं पुराने वाहनों की खरीद के लिए किया जाता है! इस लोन को आवेदन करते समय आपके क्रेडिट स्कोर एवं इनकम प्रूफ और लोन अवधि का आकलन कर बैंक द्वारा प्रदान किया जाता है!

व्हीकल लोन के द्वारा आप अपने सपनों का वाहन खरीद सकते हैं! क्योंकि इस लोन पर पर्सनल लोन की अपेक्षा ब्याज दर कम लगती है! इस लोन की राशि एवं ब्याज दर आपके क्रेडिट स्कोर पर निर्भर करती है! विकल लोन आवेदन करते समय यदि आपका सिबिल स्कोर अच्छा है! तो आपको आसानी से यह लोन मिल जाता है! इस लोन का भुगतान आप 7 वर्ष तक EMI के रूप में कर सकते हैं!

व्हीकल लोन लेने के लिए आवश्यक दस्तावेज-
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • इनकम प्रूफ
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो
  • एड्रेस प्रूफ
  • अंतिम 2 वर्ष का ITR
  • FORM 16

3- शिक्षा लोन [Education Loan]-

आज के समय में उच्च शिक्षा का महत्व बढ़ गया है! जो लोग उच्च शिक्षा लेना चाहते हैं! परंतु उनके पास शिक्षा के लिए पैसे नहीं है! तो ऐसे में बैंक द्वारा एजुकेशन लोन आवेदन कर सकते हैं! यह लोन उच्च शिक्षा एवं मेडिकल इंजीनियरिंग के छात्रों के लिए उपलब्ध है!

इस लोन को आवेदन करने के लिए आपके पास बैंक खाता एवं एड्रेस प्रूफ होना चाहिए! एजुकेशन लोन की ब्याज दर करीब 9% प्रति वर्ष रहती है! एजुकेशन लोन का भुगतान आप 12 महीने की EMI के रूप में कर सकते हैं! इस लोन को लेने के लिए आप नजदीकी बैंक शाखा में जाकर संपर्क करें!

READ MORE:-

निष्कर्ष- मित्रों आशा करता हूं ! इस आर्टिकल में मेरे द्वारा बताए गए लोन कितने प्रकार के होते हैं [Loan Kitne Prakar Ke Hote Hain] से आप संतुष्ट होंगे! अगर आपका लोन से संबंधित कोई प्रश्न है तो आप कमेंट के द्वारा पूछ सकते है!

 

वीडियो में देखें: Loan kitne Prakar Ke Hote Hain

FAQs- Loan kitne Prakar Ke Hote Hain

पर्सनल लोन कितने प्रकार के होते हैं?

जब कोई व्यक्ति अपने व्यक्तिगत कार्य के लिए लोन आवेदन करता है! तो इस लोन को पर्सनल लोन कहते हैं! इस लोन का उपयोग घर की मरम्मत, शिक्षा, इमरजेंसी चिकित्सा आदि के लिए उपयोग कर सकते हैं!
पर्सनल लोन के प्रकार-
1- ट्रैवल लोन
2- मेडिकल लोन
3- यूज्ड कार लोन
4- उच्च शिक्षा लोन
5- शादी के लिए लोन [ वेडिंग लोन]

पर्सनल लोन कितने साल के लिए होता है?

आपके द्वारा लिया गया पर्सनल लोन का भुगतान 60 महीने तक EMI ईएमआई के रूप में कर सकते हैं! अर्थात पर्सनल लोन अधिकतम 5 वर्षों के लिए दिया जाता है!

पर्सनल लोन की शर्तें क्या है?

इस लोन की अवधि 12 महीने से लेकर 60 महीने के मध्य होती है! इस लोन का भुगतान आप ईएमआई [EMI] के रूप में कर सकते हैं!
पर्सनल लोन लेने के लिए आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा [750 के करीब] होना चाहिए! पर्सनल लोन की ब्याज दर वर्तमान समय में 10.75% से 16% तक है!

मैं कितने पर्सनल लोन ले सकता हूं?

हमारे देश में एक व्यक्ति एक से अधिक पर्सनल लोन प्राप्त कर सकता है! लेकिन पहले से लिए हुए पर्सनल लोन की तरह आपको बैंक के द्वारा नियम एवं शर्तों का पूरा करना होगा! और आपने जो पहले से लोन लिया है! करना उसके भुगतान के अनुसार आपको नया पर्सनल लोन दिया जाएगा!

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *